Water will run in the canals for 3 more days, tanks will not be able

साढ़े 5 साल पहले पिता की आंखों के सामने जिंदा जले गए थे दो बच्चे, CBI कोर्ट ने 11 आरोपियों को बरी किया

फ़रीदाबाद । सोमवार को पंचकूला स्थित सीबीआई कोर्ट से बड़ा निर्णय निकल कर आया है. फ़रीदाबाद जिले के सुनपेड़ गांव में 5 साल पहले घटे हत्याकांड का मामला है. जब घर में सोते हुए परिवार के चार सदस्यों में से दो बच्चे जिंदा जल गए थे. साथ ही दंपत्ति भी बुरी तरह से घायल हो गया था. आज सीबीआई कोर्ट ने इस मामले के 11 आरोपियों को बरी कर दिया है. इस मामले में बहुत राजनीति हुई थी. इतना ही नहीं वृंदा करात और राहुल गांधी भी पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंचे थे. हरियाणा सरकार ने राजनीतिक दबाव की वजह से इस केस की जांच को सीबीआई को सौंपा था.

delhi court peon

शुरुआत में इस मामले की जांच स्थानीय स्तर पर एसआईटी द्वारा की जा रही थी. परंतु बाद में राजनीतिक पार्टियों ने इस मामले में दबाव बनाया तो मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस केस को सीबीआई को सौंप दिया. प्राथमिक जांच में ही 3 आरोपियों को बाहर कर दिया गया था. इसके पश्चात 28 अक्टूबर 2015 को थाना क्राइम ब्रांच-3 द्वारा एफ आई आर दर्ज कर जांच आरंभ करने वाली सीबीआई टीम ने अपनी जांच को पूर्ण कर लिया और कोर्ट में ब्यूरो की क्लोजर रिपोर्ट को पेश कर दिया. बचाव पक्ष ने सीबीआई कोर्ट में दावा किया कि इस हत्या के मामले में नामजद किए गए किसी भी व्यक्ति का कोई इंवॉल्वमेंट नहीं है. केवल आपसी रंजिश के चलते इन लोगों पर मुकदमा दर्ज करवाया गया है. इसके फल स्वरुप 11 आरोपियों को क्लोजर रिपोर्ट में भी क्लीन चिट दे दी गई.

सीबीआई कोर्ट ने सोमवार को इसी रिपोर्ट के बेस पर सभी 11 आरोपियों को बरी करने का निर्णय सुनाया है. आरोपियों के विरुद्ध सीबीआई को कोई सबूत या गवाह प्राप्त नहीं हुआ. इसके साथ ही चार्जशीट दाखिल ना होने की वजह से सीबीआई कोर्ट ने सभी आरोपियों को जमानत भी दे दी है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *