स्कूल बसों में नहीं थे कैमरे, जीपीएस सिस्टम, फ‌र्स्ट एड बाक्स, काटे चालान, कुछ को दी चेतावनी

Bhiwani School buses were not in cameras, GPS systems, first aid boxes
Bhiwani School buses were not in cameras, GPS systems, first aid boxes

Bhiwani School भिवानी : कोरोना संक्रमण काल के कारण पिछले करीब आठ माह से स्कूल बंद पड़े हैं। इसके चलते स्कूल बस भी कम सड़कों पर दौड़ी। स्कूल अब खुलने के बाद जब सड़कों पर स्कूल बसें उतरी तो उनमें काफी कमियां मिली। प्रादेशिक परिवहन विभाग की तरफ से राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के तहत वीरवार को 20 से ज्यादा स्कूल वाहनों की चेकिग की गई। इसमें नियमानुसार पूरा सामान नहीं मिली।

Bhiwani School किसी में जीपीएस नहीं था तो किसी में फ‌र्स्ट एड बस ही नहीं था। काफी बस में एटेंडेंट तक नहीं था। विभाग की तरफ से उसी समय काफी बस का चालान किया तो काफी को चेतावनी देते हुए एक सप्ताह में नियम पूरा करने के आदेश दिए गए है। विभाग की कार्रवाई से स्कूल संचालकों में भी हलचल है। टीम ने इस दौरान वाहन चालकों को यातायात के नियमों की पालना करने के निर्देश दिए गए।

प्रादेशिक परिवहन विभाग के सचिव अंग्रेज सिंह के नेतृत्व में प्रादेशिक परिवहन की टीम ने बीपीएस स्कूल के पास, सेक्टर 13, घंटाघर चौक व रोहतक गेट के पास स्कूल वाहनों को रूकवाया। उनकी जांच की। जांच के दौरान वाहनों में जीपीएस सिस्टम, कैमरे, फ‌र्स्ट एड बॉक्स, फायर बॉक्स, सेफ्टी बॉक्स, नंबर प्लेट, चालकों व वाहनों के जरूरी कागजात की जांच की तो वह कम मिले। इस दौरान काफी बस में एटेंडेंट भी नहीं मिले। इनका काम बच्चों को बस से उतारा और चढ़ाना तक होता है। उसी समय टीम ने चालान किए गए। साथ ही कुछ को चेतावनी दे दी गई है। वाहन को तीव्र गति से न चलाएं वाहन चालक

सचिव प्रादेशिक परिवहन ने स्कूल बस चालकों को निर्देश देते हुए बताया कि 18 जनवरी से 17 फरवरी तक सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षा नामक विशेष अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें विभिन्न प्रकार की गतिविधियों के माध्यम से लोगों को यातायात के नियमों की पालना करने के लिए जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होने पर वाहन चलाएं। वाहन को तीव्र गति से न चलाएं व निर्धारित सीमा में ही चलाएं।

नशीले पदार्थों का सेवन करके गाड़ी न चलाएं। धुंध में तेज गति से वाहन न चलाएं और हैडलाइट जलाकर रखें। रात्रि में वाहन चलाते समय डिपर का प्रयोग करें। शहर व गांवों में स्कूलों के पास से गुजरते समय धीमी गति में वाहन चलाएं। अपने वाहन को निर्धारित स्थान पर पार्किंग करें। वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग न करें। गलत दिशा से कभी भी ओवरटेक न करें। पांच हजार पंपलेट बांटे जा रहे

Leave a Comment