सरकार ने लिया 120 रूपए प्रति किंटल के हिसाब से पराली खरीदने का निर्णय

सिर्फ़ माहौल बनाया जा रहा है कि किसानों के लिए बहुत कुछ किया जा रहा है'

चंडीगढ़। हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने कहा कि पराली से भी ब्रीकेट्टस बनाए जाएंगे और सरकार ने 120 रूपए प्रति क्विंटल के हिसाब से पराली खरीदने का निर्णय लिया है। इस फैसले से एक तो किसानों को आर्थिक लाभ पहुंचेगा, दूसरा प्रदूषण भी नहीं होगा।

डॉ० बनवारी लाल आज दी-महम सहकारी चीनी मिल महम, रोहतक के पिराई सत्र का शुभारंभ करने के उपरांत उपस्थित किसानों तथा मिल स्टाफ के सदस्यों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चीनी मिलों को घाटे से उबारने के लिए चीनी के साथ-साथ अन्य वस्तुओं का भी मिलों में उत्पादन किया जाएगा। कैथल चीनी मिल में बायोफ्यूल ब्रिकेट हलांट संयंत्र लगाया गया है।

इस हलांट में बगास गिट्टी को एक आधुनिक इंधन के रूप में प्रयोग किया जाता है और यह कोयले का एक बेहतर विकल्प है। उन्होने का क यह प्यो ूसे ची मिलों में भी किया जाएगा। डॉ० बनवारी लाल ने कहा कि चीनी मिलों की आमदनी बढ़ाने के लिए शाहाबाद चीनी मिल में एथलॉन बनाने का हलांट मार्च माह में आरंभ होने जा रहा है।

इसी प्रकार से महम, कैथल व पलवल की चीनी मिलों में आर्गेनिक गुड़ व शक्कर का उत्पादन 15-20 दिनों में आरंभ हो जाएगा। उन्होने कहा कि रोहतक चीनी मिल में रिफाइन्ड चीनी बनाने का कार्य शुरू किया गया है तथा इसकी पांच व एक किलो की पैकिंग में बनाई जाएगी।

Leave a Comment