US की लड़की बन साथ रहने और लाखों डॉलर का दिया लालच, रिटायर्ड SDO से ठगे 3.5 लाख

ऑनलाइनन ठगी के केस आए दिन बढ़ते जा रहे हैं। इसके लिए ठग नए-नए रास्ते निकाल भी लेते हैं। ताजा जो मामला सामने आया है, इसमें पानीपत के PWD के एक रिटायर्ड एसडीओ से 3.5 लाख रूपए ठगे गए हैं। इस मामले में हैरान करने वाली बात यह है कि एसडीओ खुद लालच में पड़ गया और पैसा ठगो के खाते में जमा करा दिए। अब पीड़ित ने सेक्टर 13-17 में ठगों के खिलाफ केस दर्ज कराया है।

ऐसे हुई ठगी- यमुना एंक्लेव के देवीदयाल अग्रवाल ने बताया कि वह PWD के SDO के पद से रिटायर्ड हैं। अगस्त 2020 को उनके पास एक कॉल आई। कॉल करने वाली लड़की ने अपना नाम जेसिका बताया और कहा कि वह उन्हें जानती हैं। लड़की ने कहा कि वह US की रहने वाली है और ईरान के बगदाद में रेड क्रॉस सोसाइटी में काम कर रही है।

लड़की ने देवीदयाल को अपना वाट्सएप नंबर शेयर किया। दोनों की वाट्सएप पर बात होने लगी। लड़की ने कहा कि बगदाद में आतंकी खतरा है। इसलिए वह इंडिया में सैटल होना चाहती है। लड़की ने कहा कि उसके पास 5.6 मिलियन डॉलर हैं, लेकिन ईरान में वह इस रकम को कंवर्ट नहीं करा सकती। वह इंडिया में रहना चाहती है। लड़की ने रिटायर्ड SDO को उसके साथ रहने व 5.6 मिलियन डॉलर में से 40% देने का लालच दिया।

कुछ दिन बाद लड़की ने कहा कि उसका डिप्लोमेट रकम मुंबई एयरपोर्ट पहुंच रहा है, वहां रकम को कस्टम से निकलवाने व अन्य बहाने बनाकर लड़की ने रिटायर्ड SDO ने तीन बार में कुल 3.5 लाख रुपये जयकुमार और विशाल नाम के व्यक्ति के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करा लिये। रिटायर्ड SDO ने बताया कि 3.5 लाख देने के बाद उनके अकाउंट में 800 रुपये बचे। इसके बाद भी ठग लड़की ने बहाना बनाकर 1.40 लाख रुपये और मांगे, मना करने पर लड़की के सुर बदल गए। तब उन्हें ठगी का अहसास हुआ।

ठग लड़की ने रिटायर्ड SDO से उनका आधार कार्ड मांगा और कहा कि उनका अकाउंट खुलवा दिया है। इसी अकाउंट में उनकी 40% रकम जमा करा दी जाएगी। ठग ने रिटायर्ड SDO को वाट्सएप पर एक फोटो भेजा। जिसमें US आर्मी की वर्दी में खुद और साथ में अपनी बहन को बताया। इससे पीड़ित को विश्वास हो गया। रिटायर्ड SDO देवीदयाल अग्रवाल की पत्नी की चार साल पहले मौत हो चुकी है। ठग ने पानीपत में मोबाइल की दुकान खुलवाने और साथ रहने का झांसा दिया तो वह जाल में फंस गए।

Leave a Comment