हरियाणा के गांवों में गरीब एवं मध्यम वर्ग के लिए बनेंगी नई कॉलोनियां, सर्वप्रथम इस गांव में बनेगी कॉलोनी

Worn building used as home by poor people Stock Photo - Alamy

चंडीगढ़ । हरियाणा सरकार ने राज्य में गरीब एवं मध्यम वर्ग के लोगों को बेहतर आवास की सुविधा देने के लिए एक बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने फैसला किया है कि राज्य के सभी ग्रामीण क्षेत्रों में शहरों की तर्ज पर मध्य एवं गरीब वर्ग के लिए कॉलोनियां विकसित की जाएंगी.

इस योजना में हरियाणा ग्रामीण विकास प्राधिकरण ने सबसे पहले पानीपत जिले के इसराना गांव में एक मॉडल कॉलोनी विकसित करने का निर्णय लिया है. कल हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की अध्यक्षता में हरियाणा ग्रामीण विकास प्राधिकरण की पांचवी बैठक की गई.

योजना से होगा पानीपत के मजदूरों और कर्मचारियों को लाभ

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि बनाई जाने वाली नई कॉलोनियों में 60% मकान इसराना गांव के स्थाई निवासियों को उपलब्ध कराए जाएंगे और बचे हुए 40% मकान खुली बोली के माध्यम से दिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत ने राज्य सरकार को इस आशय का एक प्रस्ताव भी भेजा है. उपमुख्यमंत्री के अनुसार इसराना गांव में बनने वाली नई कॉलोनी का सबसे ज्यादा मुनाफा पानीपत जिले के फैक्ट्रियों और औद्योगिक क्षेत्रों में कार्य करने वाले कर्मचारियों और मजदूरों को होगा.

इसका कारण यह है कि पानीपत जिले में मकानों की कीमत ग्रामीण क्षेत्रों की तुलना में काफी अधिक है. ऐसी स्थिति में पानीपत जैसे बड़े जिले में नौकरी करने वाले कर्मचारी और मजदूरों को इसराना गांव में बनी नई कॉलोनी में किफायती मकान लेकर हर रोज आने जाने में कोई परेशानी नहीं होगी.

गरीब लोगों को सस्ती दरों पर मिलेंगे अच्छे मकान

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के पास विकास एवं पंचायत विभाग का कार्य प्रभार है. बैठक के पश्चात उन्होंने बताया कि गांव के लोगों का ग्रामीण क्षेत्रों से शहरों की ओर होते हुए पलायन को रोकने हेतु राज्य सरकार गांव में कॉलोनियां बनाने की योजना तैयार कर रही है.

यह कॉलोनियां पंचायती भूमि पर विकसित की जाएंगी. इस योजना से गांव के गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों को सस्ती दरों पर अपने गांव में ही शहरों के जैसे योजनाबद्ध तरीके से बनाए गए अच्छे व पक्के मकान और भी अन्य सुविधाएं उपलब्ध हो पाएंगी.

टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग इन कॉलोनियों का प्लान तैयार करेगा. दूसरी ओर हरियाणा ग्रामीण विकास प्राधिकरण इन कॉलोनियों का आधारभूत ढांचा तैयार करेगा. उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जानकारी देते हुए बताया है कि सबसे पहले पानीपत जिले के इसराना गांव में इस योजना के तहत एक मॉडल कॉलोनी तैयार की जाएगी. उसके पश्चात हरियाणा के अन्य गांवों में भी इस योजना के अंतर्गत विशेष कदम उठाए जाएंगे.

एक सप्ताह में तैयार होगा कॉलोनी का नक्शा

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के अधिकारियों को इस मॉडल कॉलोनी का नक्शा बनाने के आदेश दिए हैं. इसके लिए विभाग को एक सप्ताह का समय दिया गया है. इस बैठक में विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव सुधीर राजपाल,

हरियाणा के वित्त एवं योजना विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री TVSN प्रसाद, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग एवं अर्बन एस्टेट विभाग के प्रधान सचिव श्री AK सिंह, मुख्यमंत्री के उप प्रधान सचिव श्री अमित अग्रवाल, हरियाणा राज्य औद्योगिक संसाधन विकास निगम के प्रबंध निदेशक श्री अनुराग अग्रवाल, ग्रामीण विकास विभाग के निदेशक श्री हरदीप सिंह, उप मुख्यमंत्री के OSD श्री कमलेश भादू, विकास एवं पंचायत विभाग के निदेशक श्री RC बिढ़ान के अतिरिक्त अन्य उच्च अधिकारी भी मौजूद थे.

Leave a Comment