RRB Exam 2020 : अगर अभ्यर्थी के शरीर का तापमान अधिक हुआ तो क्या होगा, रेलवे ने लिया ये फैसला

नई दिल्ली | रेलवे ने बीते शुक्रवार के दिन ब्यान जारी करते हुए कहा है कि 1 लाख 40 हजार पदों को भरने के लिए कंप्यूटर बेस्ड परीक्षा (RRB Exam) कोविड- 19 यानी आज के युग में लगातार फैलती महामारी के समय में सभी प्रोटोकॉल का पालन करने हुए आयोजित की जा सकती है. ऐसे समय में यहां पर 2.44 करोड़ अभ्यर्थी शामिल हो सकते हैं. परंतु यहां पर मुख्य बात यह रहेगी कि परीक्षा में बैठने के लिए फिट होना जरुरी होगा ओर साथ ही साथ एक घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर करने भी आवश्यक होंगे.

RRB NTPC Admit Card 2020 will be out soon. From Mark Distribution

आर आर बी द्वारा तीन चरणों में आयोजित करवाई जा सकती है परीक्षा

आर आर बी की ओर से जारी किए गए ऑफिशियल बयान में यह स्पष्ट रूप से कहा गया है कि परीक्षा का पहला चरण 15 दिसंबर से 18 दिसंबर तक आयोजित किया जा सकता है. अगले चरण की परीक्षा 28 दिसंबर से मार्च 2021 तक आयोजित होने की संभावना जताई जा सकती है. यहां अंत में तीसरे चरण की परीक्षा को जून 2021 के अंत तक आयोजित करवाया जा रहा है.

परीक्षा में शामिल होने के लिए घोषणा पत्र पर करने होंगे हस्ताक्षर 

रेलवे बोर्ड के मानव संसाधन महानिदेशक आंनद एस खाटी जी ने संवाददाता सम्मेलन में शामिल हो कर अपना ब्यान जारी करते समय कहा कि, ”कैंडिडेट्स के लिए बीमारी मुक्त होने का प्रमाण पत्र उपलब्ध कराना संभव नहीं है, उन्हें एक घोषणा पत्र स्वयं हस्ताक्षर करके देना होगा कि वे परीक्षा में बैठने के लिए स्वस्थ हैं और साथ ही साथ में कोविड- 19 महामारी से किसी भी प्रकार से ग्रस्त नहीं हैं.

 परीक्षा केंद्र के आवंटन में आर आर बी द्वारा रखा गया महिला व दिव्यांग अभ्यर्थियों का खास ख्याल

रेलवे बोर्ड के मानव संसाधन महानिदेशक आंनद एस खाटी जी ने यह भी कहा है कि परीक्षा केंद्र में आने पर सभी कैंडिडेट्स की थर्मो गन की सहायता से जांच की जाएगी. अगर किसी भी कैंडिडेट के शरीर का तापमान उसकी निर्धारित की गई सीमा से अधिक है तो उम्मीदवार की परीक्षा एक बार फिर से निर्धारित की जा सकती है. ऐसा केवल इसलिए किया जा रहा है क्योंकि यह सभी लोगो की सुरक्षा का मामला है. सभी कैंडिडेट्स को मुख्य रूप से ऐसे केंद्र दिए गए हैं जो उनके राज्य में ही स्थित हैं या फिर जहां तक यात्रा करने में बिल्कुल कम से कम समय लगे, विशेष रूप से महिला व दिव्यांग अभ्यर्थियों का खास ख्याल रखा गया है”.

Leave a Comment