स्कूलों को बंद करने को लेकर शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान, कोरोना को देखते लिया ये फैसला

Bhiwani School buses were not in cameras, GPS systems, first aid boxes

चंडीगढ़ । हरियाणा में शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुज्जर ने स्कूली विद्यार्थियों की परीक्षाओं व स्कूलों को बंद करने के संबंध में बड़ा बयान दिया है. हरियाणा के शिक्षा मंत्री कवर पाल गुर्जर के अनुसार पहली से दूसरी कक्षा की परीक्षाएं मौखिक रूप से होंगी. पहली और दूसरी कक्षा के लिए कोई भी लिखित परीक्षा नहीं ली जाएगी.

इस प्रकार होंगी तीसरी से आठवीं तक की परीक्षाएं

उन्होंने कहा कि तीसरी कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा तक की परीक्षाएं ऑनलाइन होंगी. यह ऑनलाइन परीक्षाएं मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से करवाई जाएंगी. एक मोबाइल पर ज्यादा से ज्यादा 5 विद्यार्थी परीक्षा दे सकते हैं.

इस प्रकार होंगी नौवीं से ग्यारहवीं तक की परीक्षाएं

इसके अतिरिक्त नौवीं कक्षा से लेकर 11वीं कक्षा तक की सभी परीक्षाएं ऑफलाइन होगी. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर उन्होंने कहा कि यदि भविष्य में प्रदेश में कोरोना के मामले में वृद्धि होती है तो इस मामले पर पुनर्विचार किया जा सकता है.

बंद नहीं होंगे स्कूल और कॉलेज

हरियाणा में कोरोना वायरस के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए ऐसा लग रहा था कि सरकार स्कूलों को बंद करने का फैसला ले सकती है. परंतु शिक्षा मंत्री कवर पाल गुर्जर ने साफ कर दिया है कि स्कूल कॉलेजों को बंद करने से संबंधित ऐसा कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है. उनके अनुसार फिलहाल हरियाणा में सब कुछ सामान्य चल रहा है. यदि इस प्रकार की स्थिति पैदा होती है तो निश्चित तौर पर परिस्थितियों के हिसाब से आगे के निर्णय लिए जाएंगे.

यूनिवर्सिटी को दी परीक्षा के संबंध में छूट

इसके साथ ही शिक्षा मंत्री कवर पाल गुर्जर ने कहा कि अगले सत्र के दाखिले अप्रैल महीने के आखिर से आरंभ होंगे. कॉलेजों व यूनिवर्सिटी की परीक्षाओं के संबंध में यूनिवर्सिटी को छूट दी हुई है. यूनिवर्सिटी चाहे तो ऑफलाइन या ऑनलाइन किसी भी प्रकार से परीक्षा ले सकती है.

Leave a Comment