स्कूलों को 20% फीस कम करनी होगी जानिए क्यों:delhi

कोलकाता, 28 अक्टूरबर (हि.स.)। बंगाल के विभिन्र प्राइवेट स्कुलों को फीस में 20 फीसदी की कटौती करनी ही होगी। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने स्कुल प्रबंधन की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट के फैसले को कोलकाता, 28 अक्टूरबर (हि.स.)। बंगाल के विभिन्र प्राइवेट स्कुलों को फीस में 20 फीसदी की कटौती करनी ही होगी।

बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने स्कुल प्रबंधन की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट के फैसले को जो स्कूलों की सुविधा के मुताबिक काम करेगी। इसके खिलाफ 19 स्कलों की ओर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई गई थी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता कपिल सिब्बल और अभिषेक मनु सिंघवी ने स्कूलों की तरफ से न्यायालय में पक्ष रखा था लेकिन न्यायाधीश ने सुनवाई के बाद स्पष्ट कर दिया कि हाई कोर्ट का निर्देश सही है और इसे रद्द नहीं किया जाएगा स्कूलों का दावा था.

NIET
NIET

कि फीस कम करने संबंधी आदेश देने का अधिकार हाईकोर्ट को नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को पूरी तरह से खारिज करते हुए कहा कि फीस कटौती का हाईकोर्ट का फैसला सही है और यह मान्य होगा। हालांकि उच्चतम न्यायालय ने हाईकोर्ट की ओर से गठित उस कमेटी को फिलहाल स्थगित रखने का निर्देश दिया है जो स्कूलों की। सुविधा के मुताबिक दिशानिर्देश तय करने के लिए गठित की जानी थी।

उल्लेखनीय है कि राज्य भर में प्राइवेट स्कुलों की फीस में लगातार हो रही बढोतरी के खिलाफ अभिभावकों की ओर से हाई कोर्ट में याचिका लगाई गई थी जिस पर कोर्ट ने स्कुलों को 20 फीसदी फीस में कटौती का निर्देश दिया था।

Leave a Comment