ITI में छात्र स्वयं के लिए बनाएंगे ड्यूल डेस्क

BTech Civil Engineering Course and B.Tech Computer Science And Engineering  Course School / College / Coaching / Tuition / Hobby Classes | Krg Cew,  Alappuzha

प्रोजेक्ट जॉब के तौर पर होगा सैशनल मूल्यांकन

अब ITI में ड्यूल डेस्क की कोई कमी नहीं रहेगी. अब इनका निर्माण संस्थान में वेल्डर ट्रेड के विद्यार्थी स्वयं करेंगे. पहले केवल संस्थान के लिए ही विद्यार्थी इन्हें तैयार करेंगे. उसके बाद संस्थान की मांग पूर्ण होने पर अन्य प्राइवेट या गवर्नमेंट संस्थानों की मांग पर उनके लिए निर्माण किया जाएगा. यह इसलिए भी किया जा रहा है क्योंकि इससे ना केवल ड्यूल डेस्क की कमी दूर होगी, बल्कि साथ-साथ विद्यार्थियों द्वारा तैयार डेस्क को प्रोजेक्ट वर्क के तौर पर भी मूल्यांकित किया जाएगा.

आवश्यकतानुसार करवाया जाएगा कारपेंटर-पेंटर ट्रेड व्यवसाय

विद्यार्थियों द्वारा तैयार किए गए इन्हीं ड्यूल डेस्क के आधार पर उन्हें प्रोजेक्ट जॉब के लिए सैशनल मार्क्स दिए जाएंगे. विभाग ने ड्यूल डेस्क के लिए डिजाइन भी तैयार कर दिया है. उन्हीं डिजाइंस के आधार पर यह ड्यूल डेस्क बनाए जाएंगे. अगर संस्थान में पेंटर, कारपेंटर व्यवसाय नहीं चल रहा है तो आवश्यकता के अनुसार इन्हीं छात्रों से कारपेंटर अथवा पेंटर का कार्य भी करवाया जाएगा. इसका खर्च भी उसी ट्रेड से पूरा किया जाएगा.

प्रशिक्षण प्रोजेक्ट के तौर पर होगा मूल्यांकन

यह निर्णय कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग द्वारा औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में हो रही ड्यूल डेस्को की कमी को देखते हुए लिया गया है. यह काम विद्यार्थियों से उनके ट्रेड प्रशिक्षण की अवधि के 26 से 28वें सप्ताह में करवाया जाएगा. जिससे उनकी ट्रेनिंग पूर्ण होने पर इसे प्रशिक्षण प्रोजेक्ट के तौर पर तैयार करवाया जा सके. प्रशिक्षण अवधि के पश्चात जिन संस्थानों में वेल्डर व्यवसाय हो रहा है वहां पर ट्रेड के एक छात्र से 1-2 ड्यूल डेस्क तैयार करवाए जाएंगे.

बजट भी है उपलब्ध

इसमें आने वाले खर्च को संस्थान के M&S के अंतर्गत उपलब्ध बजट में से वहन किया जाएगा. अगर किसी राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (महिला) या राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के अतिरिक्त मद की बिक्री किसी अन्य संस्थान विद्यालय-कॉलेज को की जाएगी तो उससे प्राप्त राशि आय को विभाग-सरकार की रीसीट में जमा किया जाएगा. यदि ड्यूल डेस्कों की बिक्री से लाभ होता है तो उसे IMC के खाते में जमा करवाया जाएगा.

Leave a Comment